Motherboard क्या है? कंप्यूटर मदरबोर्ड 2 प्रकार के होते है।

Motherboard क्या है आपने रोजमर्रा के जिंदगी में कंप्यूटर का इस्तेमाल जरूर ही किया होगा। और एक कंप्यूटर बहुत सारे devices से मिलकर बना होता है, लेकिन यदि कंप्यूटर का कोई important part नहीं हुआ तो क्या कंप्यूटर चल पाएगा? ऐसे  में कंप्यूटर का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है motherboard. इसके बिना कोई भी कंप्यूटर अधूरा है।

जबसे कंप्यूटर का अविष्कार हुआ है, तब से ही motherboard इसका एक अहम हिस्सा है. चूंकि पहले के motherboard में केवल कुछ ही parts(component) लगे होते थे जिससे कंप्यूटर की कार्यक्षमता थोड़ी कम थी लेकिन जैसे जैसे टेक्नोलॉजी बढ़ रहे है वैसे वैसे motherboard में भी कई नए important component में परिवर्तन हुई है। 

IBM के द्वारा बनाए गए सबसे पहली motherboard में केवल प्रोसेसर और कार्ड slots ही लगे होते थे। लेकिन आज के मदरबोर्ड में कई सारे नए features जोड़े गए है जैसे video card, GPU card इत्यादि। एक motherboard में कई सारे slots, cards, और sockets लगे होते है।  जब भी आप कोई नया computer खरीदने दुकान पर जाते है तो इसके सारे features को ध्यान में रखते हुए ही खरीदते होंगे।

यह कंप्यूटर का बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है इसके बिना कोई भी कंप्यूटर अधूरा है।  

आज हम इस पोस्ट में जानेंगे कि Motherboard क्या है, यह कैसे काम करता है और इसके जरूरी parts के बारे में जानेंगे। यूं कहा जाए तो एक motherboard को कंप्यूटर का base या फिर backbone भी कहा  जाता है क्योंकि motherboard के बिना कंप्यूटर पूरी तरह से अधूरा है। 

 

 

Table of Content

  1. मदरबोर्ड  क्या है? Motherboard overview in Hindi
  2. Motherboard कितने तरह के होते है? Type of motherboards
  3. Motherboard के कार्य? The function of motherboards in Hindi
  4. Motherboard के components और ports? components and ports of motherboards
  5. Computer Motherboard के इतिहास ? Computer motherboard history

 

 

Motherboard क्या है Motherboard overview in Hindi

Motherboard, computer का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा होता है जिसमें कंप्यूटर के सारे जरूरी parts जुड़े होते है जैसे cpu, ram, hard-disk mouse keyword video card इत्यादि। जितने भी internal components होते है वे एक दूसरे से connect होते है और external peripheral को कंप्यूटर से जोड़ने के लिए connectors होते है।  

एक motherboard को PCB (printed circuit board) के नाम से जाना जाता है। और इसे   main board, main circuit board, system board, baseboard, तथा logic board जैसे नामों  से भी जाने जाते है।

यह कंप्यूटर में Power supply करता है और सीपीयू, रैम और अन्य सभी कंप्यूटर हार्डवेयर कॉम्पोनेन्ट के बीच कम्युनिकेशन की अनुमति देता है

मदरबोर्ड कंप्यूटर के हार्डवेयर कॉम्पोनेन्ट जैसे प्रोसेसर (सीपीयू), मेमोरी (रैम), हार्ड ड्राइव और वीडियो कार्ड के बीच कनेक्टिविटी प्रदान करता है। कई प्रकार के मदरबोर्ड हैं, जिन्हें विभिन्न प्रकार और कंप्यूटरों के आकार में फिट करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

हर प्रकार के मदरबोर्ड को विशिष्ट प्रकार के प्रोसेसर और मेमोरी के साथ काम करने के लिए डिज़ाइन किया गया है, इसलिए वे हर प्रोसेसर और प्रकार की मेमोरी के साथ काम नहीं करते हैं।

मदरबोर्ड को एक मेनबोर्ड, प्लानर बोर्ड या लॉजिक बोर्ड, सिस्टम बोर्ड, मोबाइल या एमबी के रूप में भी जाना जाता है।

 

 

Motherboard कितने तरह के होते है? Type of motherboards

 

Motherboard को दो भागों में बांटा गया है

 

  • Non-Integrated Motherboard:
  • Integrated Motherboard:

Non-Integrated Motherboard:- इसका मतलब यह होता है कि motherboard में जरुरी कॉम्पोनेन्ट जोड़ने के लिए कोई भी पोर्ट्स नहीं होते है l हम इसे उदारण से समझते है mobile या tablets के motherboard में सभी कॉम्पोनेन्ट integrated होते है इसमें अलग से cpu या ram के लिए कोई ports या slots दिया नहीं होता है |

Integrated Motherboard:- इसका मतलब यह होता है कि motherboard में जरुरी कॉम्पोनेन्ट जैसे cpu,hard disk,ram इत्यादि जोड़ने के लिए अलग से पोर्ट्स दिया जाता है | हम इसे उदहारण से समझते है आजकल के कंप्यूटर या लैपटॉप को आसानी से ram या hard disk upgrade कर सकते है |

 

Motherboard के कार्य? The function of motherboards in Hindi

मदरबोर्ड एक रीढ़ है जो एक स्थान पर कंप्यूटर के कंपोनेंट्स को एक साथ रखता है और उन्हें एक दूसरे से बात करने की अनुमति देता है। 

 इसके बिना, कंप्यूटर का कोई भी टुकड़ा, जैसे कि CPU, GPU, या Hard Drive इंटरैक्ट नहीं कर सकता। कंप्यूटर को अच्छी तरह से काम करने के लिए मदरबोर्ड की कार्यक्षमता आवश्यक है।

 

 

Motherboard के पोर्ट और फंक्शन? Port and Function of motherboards

 मदरबोर्ड में विभिन्न प्रकार के Ports होते हैं जिसके द्वारा कंप्यूटर के peripheral device(सहायक उपकरण) को कनेक्ट करते है 

PS/2

PS/2 कनेक्टर को माउस और कीबोर्ड को जोड़ने के लिए IBM द्वारा विकसित किया गया है। यह IBM के पर्सनल सिस्टम / कंप्यूटर की 2 श्रृंखला के साथ बनाया गया था जिसके कारण  इसका नाम PS/2  रखा गया।

 

Serial Port

यहाँ दो प्रकार के सीरियल पोर्ट हैं जो आमतौर पर कंप्यूटर पर पाए जाते हैं: DB-25 और DE-9।
ये पुराने port है अब इसका इस्तेमाल नहीं किया जाता है 
DB25 इसमें 25 pin होता है
DE-9 इसमें 9 pin होता है

 

 

HDMI Port

HDMI का पूरा नाम High Definition Media Interface है | HDMI कंप्यूटर monitor, HDTVs, Blu-Ray players, gaming consoles जैसे High Definitionऔर Ultra High Definition devices को जोड़ने के लिए एक डिजिटल इंटरफ़ेस है।

 

USB Port

USB का पूरा नाम Universal Serial Bus है | USB पोर्ट का उपयोग डेटा ट्रांसफर करने के लिए किया है, यह Universal उपकरणों के लिए एक इंटरफेस के रूप में कार्य करता है |

 

VGA Port

 VGA port कंप्यूटर और पुराने CRT monitors के बीच का मुख्य इंटरफ़ेस है। modern LCD और LED VGA पोर्ट को सपोर्ट करता है लेकिन  picture quality कम हो जाती है |

 

RJ-45 (Registered Jack 45) LAN port

ईथरनेट एक नेटवर्किंग तकनीक है जिसका उपयोग आपके कंप्यूटर को इंटरनेट से जोड़ने और अन्य कंप्यूटर या नेटवर्किंग उपकरणों के साथ संचार करने के लिए किया जाता है।

यह पोर्ट RJ45 केबल का उपयोग करके नेटवर्क हब के माध्यम से एक स्थानीय क्षेत्र नेटवर्क (LAN) से कनेक्शन की अनुमति देता है। 

 

 

Parts of Motherboard and its Function:

CPU (Central Processing Unit) chip

CPU एक कंप्यूटर में इलेक्ट्रॉनिक सर्किट है जो एक प्रोग्राम बनाने वाले instructions (निर्देशों) को executes करता है। इसे केंद्रीय प्रोसेसर या माइक्रोप्रोसेसर  के रूप में भी जाना जाता है। सीपीयू डेस्कटॉप प्रोग्राम में दिए गए निर्देशों द्वारा arithmetic (अंकगणित), इनपुट/आउटपुट (I/O) ऑपरेशन को executes (निष्पादित) करता है।

 

RAM slots

RAM का पूरा नाम  random-access memory है। RAM एक तरह की कंप्यूटर मेमोरी है जिसे read और write किया जा सकता है। इसका उपयोग मुख्य रूप से डेटा और मशीन कोड को save करने के लिए किया जाता है। RAM डिवाइस डेटा को read या write के लिए लगभग उसी समय की अनुमति देता है, जब डेटा की भौतिक स्थिति मेमोरी में होती है। हार्ड ड्राइव, सीडी / डीवीडी और चुंबकीय टेप जैसे डायरेक्ट-एक्सेस स्टोरेज डिवाइस की तुलना में, रैम मीडिया डेटा read और write के लिए बहुत तेज है। 

 

BIOS

BIOS, जिसे सिस्टम BIOS, PC BIOS या ROM BIOS भी कहा जाता है, फर्मवेयर है जिसका उपयोग बूटिंग प्रक्रिया के दौरान हार्डवेयर initialization करने के लिए किया जाता है और ऑपरेटिंग सिस्टम programs के लिए रनटाइम सेवाएं प्रदान करता है और यह एक पीसी के सिस्टम बोर्ड पर installed (स्थापित) रहता  है 

 

History of Motherboard

 

  • 1981 में, आईबीएम कंप्यूटर में पहले मदरबोर्ड का उपयोग किया गया था जिसे मूल रूप से प्लेनर के रूप में जाना जाता था।

 

  • अगस्त 1984 में, IBM ने पूर्ण AT मदरबोर्ड फॉर्म फैक्टर पेश किया।

 

  • 1985 में, बेबी एटी मदरबोर्ड फॉर्म फैक्टर जारी किया गया था।

 

  • 1987 में, वेस्टर्न डिजिटल ने LPX मदरबोर्ड फॉर्म फैक्टर विकसित किया।

 

  • जुलाई 1995 में, intel द्वारा मदरबोर्ड के लिए ATX विनिर्देश का पहला संस्करण जारी किया गया था।

 

आपने क्या सीखा?

हमने आपको इस लेख के द्वारा Motherboard क्या है के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश की। आज अपने सीखा Motherboard क्या है। इसके मुख्य component के बारे में जाना। Motherboard क्या है और Motherboard के कार्य और उसके different नाम जैसे system board, main board, circuit board, base board तथा logic board के बारे में जाना। और history of motherboard के बारे में सीखा। 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

best2guide:

View Comments (0)